चपरासी की नौकरी और वेतन 90 लाख से भी ज्यादा, जानिये कहां निकली है वैकेंसी

ONLY FOR NEWS Jan 11, 2019

यदि आपसे कहा जाये कि एक केयरटेकर या चपरासी को कितनी सैलरी मिलती होगी। तो आप क्या कहेंगे, ज्यादा से ज्यादा 40 या 50 हजार। हालांकि इसके बाद भी आजकल पढ़े लिखे युवा भी महज 20 से 30 हजार सैलरी वाली सरकारी चपरासी की नौकरी के पीछे दीवाने रहते हैं। वैकेंसी 10 निकलतीं हैं, आवेदन 10 हजार आ जाते हैं। वह भी एक से बढ़कर एक डिग्रीधारी युवाओं के। एमबीए, पोस्ट ग्रेजुएट, बीएड जैसी डिग्री वाले युवा भी चपरासी और सफाई कर्मचारी बनने के लिये लाइन में लगे अक्सर दिख जाते हैं।

लाइट हाउस की देखरेख का है काम

ऐसे में यदि बात 90 लाख रुपये सैलरी की हो तो भला कौन ऐसी नौकरी नहीं करना चाहेगा। पर यदि आपको यह नौकरी करनी है तो इसके लिये आपको अमेरिका के कैलिफोर्निया का रुख करना होगा। दरअसल कैलिफोर्निया के एक द्वीप पर दो उम्मीदवारों के लिये वैकेंसी निकली है। यहां के इस द्वीप पर एक एतिहासिक लाइट हाउस की देखरेख करने के लिये दो केयरटेकर की आवश्यकता है। जिसके बदले में भारतीय रुपये के हिसाब से लगभग 90 लाख रुपये की सैलरी दी जायेगी।

वर्ष 1974 से कर रहा है काम

सीएनएन में आयी एक रिपोर्ट के अनुसार ईस्ट ब्रदर लाइट स्टेशन नाम का यह लाइट हाउस सैन पाब्लो खाड़ी में स्थित है। इस लाइट हाउस का निर्माण 1874 में नाविकों की सहायता के उद्देश्य से किया गया था। वर्ष 1960 में इस लाइटहाउस को आधुनिक तकनीक की मदद से स्वचालित बना दिया गया, जोकि अभी तक कुशलतापूर्वक कार्य कर रहा है। इस लाइट हाउस का मालिकाना हक अमेरिकी तटरक्षक बल के पास है, और इसकी देखरेख का कार्य गैर लाभकारी समूह ईस्ट ब्रदर लाइट हाउस करता है।

कहां करना है आवेदन

जो उम्मीवार इस पद के लिये आवेदन करने के इच्छुक हैं वह ईस्ट ब्रदर लाइट स्टेशन की बेबसाइट पर जाकर आवेदन कर सकते हैं। कैलिफोर्निया के रिचमंड के मेयर टाॅम बट्ट की ओर से सीएनएन को दी गई जानकारी में कहा गया है कि उन्होंने इस लाइट हाउस के लिये चालस साल काम किया है। दरअसल टाॅम बट्ट ही लाइट हाउस को चलाने वाली गैर लाभकारी संस्था ईस्ट ब्रदर लाइट स्टेशन के प्रमुख भी है।

wemedia logo Powered by RozBuzz Wemedia

RELATED ARTICLE