ताइवान को लेकर अमेरिका और चीन में हुई यह बातें

Pardesh Jan 11, 2019

credit: Politico

सूत्रों से पता चला है अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प और चीन राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने अपनी मीटिंग के दौरान ताइवान के बारें में की बात चीत. अमेरिका और चीन का मकसद है एक साथ मिलकर ताइवान पर दबाव डालना.अमेरिका ने चीन से ताइवान पर दबाव नहीं डालने और दोनों पक्षों के बीच मतभेदों के शांतिपूर्ण हल के लिए ताइवान सरकार के साथ संवाद फिर से शुरू करने का आग्रह किया।

credit: CNN.com

समाचार एजेंसी एफे की रिपोर्ट के मुताबिक, पिछले सप्ताह चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग द्वारा द्वीप के साथ एकीकरण हासिल करने के लिए सैन्य शक्ति के प्रयोग को खारिज नहीं करने के मद्देनजर कई अमेरिकी सीनेटर और सांसदों ने ताइवान का समर्थन किया था, जिसके बाद प्रवक्ता अमांडा मनसोर की यह प्रतिक्रिया आई है।

credit:South China Morning Post

चीन-ताइवान मतभेदों का कोई भी हल शांतिपूर्ण और दोनों पक्षों के लोगों की इच्छा के आधार पर होना चाहिए। ताइवान स्थित अमेरिकन इंस्टीट्यूट ताइपे में एक तरह से अमेरिकी दूतावास है और यह 1979 से द्वीप पर वाशिंगटन के हितों का प्रतिनिधित्व करता आ रहा है।

wemedia logo Powered by RozBuzz Wemedia

RELATED ARTICLE